Homeक्राइमभाजपा सांसद के खास नवीन राठौर समेत 4 पर मुकदमा दर्ज

भाजपा सांसद के खास नवीन राठौर समेत 4 पर मुकदमा दर्ज

धारा लक्ष्य समाचार

लेडी डाक्टर बंगले की सरकारी भूमि के क्रय-विक्रय करने वालो पर हुई कार्यवाही, भ्रष्टाचारियों में हड़कम्प!

बाराबंकी। शहर के निबलेट तिराहे के पास जामा मस्जिद के सामने लगभग 3 बीघा से अधिक बेशकीमती सरकारी जमीन कब्जाने के आरोप मंे सांसद उपेंद्र रावत के खास बीजेपी नेता नवीन राठौर समेत 4 पर मुकदमा दर्ज हुआ है। मामले में नगर पालिका अधिशासी अधिकारी संजय शुक्ल ने इस जमीन को खरीद करने पर किसी के साथ धोखाधड़ी हुई हो तो दस्तावेज पेश कर शिकायत दर्ज कराने का आश्वासन दिया है। वही सांसद के करीबी बीजेपी नेता नवीन राठौर समेत 4 पर केस दर्ज होने के बाद खलबली मच गई है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर के बीचोंबीच स्थित बेशकीमती जमीन को फर्जी दास्तेवजों के सहारे बेचने और कब्जा करने की कोशिश पर हुई है। नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारी के निर्देश पर वरिष्ठ लिपिक कुलदीप ने थाना कोतवाली नगर में धारा 419, 420, 467, 468, 471 समेत सार्वजनिक संपत्तियों नुकसान पर मुकदमा किया है। कोतवाली क्षेत्र में सरकारी अभिलेखों में लेडी डॉक्टर बंगले के नाम से दर्ज जमीन को बिल्डर ने बेच दिया। शहर के मार्ग पर बेशकीमती भूमि गाटा संख्या 199 रकबा 3 बीघा 10 बिसवा जमीन पर कब्जे की कोशिश मुकदमा दर्ज कराया गया। नगर पालिका परिषद नवाबगंज के अधिशासी अधिकारी संजय शुक्ल के मुताबिक ये जमीन वर्ष 1359 फसली खतौनी में दर्ज चली आ रही है। जबकि नगर पालिका का इस जमीन पर एक कमरा भी बना हुआ है। बिल्डरों ने इस सार्वजनिक सम्पत्ति को खुर्द-बुर्द कर कब्जा करने की कोशिश की है।

सांसद उपेंद्र सिंह रावत के करीबी भाजपा के जिला संयोजक लघु उद्योग प्रकोष्ठ पदाधिकारी नवीन राठौर, सईदा आलम अशरफ, शाहे आलम और एक अज्ञात नाम शामिल है।
नगर पालिका परिषद के अधिशाषी अधिकारी संजय शुक्ल ने बताया कि सरकारी जमीन खरीद वाले ठगी का शिकार हुए कुछ लोगों ने संपर्क किया है। उचित दस्तावेज पेश करने पर दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही कराई जाएगी। नवाबगंज सदर तहसील एसडीएम विजय त्रिवेदी ने बताया कि लेडी डाक्टर के नाम दर्ज सरकारी जमीन को फर्जी तरीके से खरीद और बेचने पर 4 लोगों को नामजद किया गया है। वहीं इस सम्बंध प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार त्रिपाठी ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है, लेकिन अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

एक अज्ञात के नामजद होने की होती रही चर्चा

जनचर्चा के अनुसार थाना कोतवाली नगर के उक्त मुकदमें में एक अज्ञात नाम होने के कारण लोगों का कहना है कि क्या अज्ञात व्यक्ति ज्यादा पावरफुल, राजनैतिक पहुंच वाला है या रसूख के चलते नामजद नहीं किया गया है, ऐसे में आखिर कौन हो सकता है अज्ञात व्यक्ति, को लेकर तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म दिखा, लोग एक दूसरे से अज्ञात व्यक्ति के बारे में ज्यादा जानकारी करते हुए दिखे। अधिशाषी अधिकारी द्वारा लिपिक के माध्यम से दर्ज कराये मुकदमें में आखिर क्या कारण था कि एक व्यक्ति को नामजद नहीं किया गया। आखिर कौन हो सकता है अज्ञात व्यक्ति। यह तो पुलिस विवेचना में ही मालूम चलेगा।
RELATED ARTICLES

Most Popular