Homeपुलिससंघ के हिन्दुत्व राज मे भ्रष्टाचार नहीं - लेकिन कमीशन के लिए...

संघ के हिन्दुत्व राज मे भ्रष्टाचार नहीं – लेकिन कमीशन के लिए भाई- बहन की शादी करा कर भ्रष्टाचार समाप्त कर रहें हैं।

धारा लक्ष्य समाचार

बाराबंकी। संघ के हिन्दुत्व राज मे भ्रष्टाचार नहीं – लेकिन कमीशन के लिए भाई- बहन की शादी करा कर भ्रष्टाचार समाप्त कर रहें हैं। ज्ञातव्य है कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना प्रदेश में चल रही है और उसमें संघ के कुशल नेतृत्व में भ्रष्टाचार समाप्त करने के नए- नए प्रयोग चल रहे हैं जिसके तहत जनपद महाराज गंज में भाई बहन की शादी कुशल अधिकारीयों ने करा कर संघ की हिन्दुवत्व की प्रयोगशाला में सफलता प्राप्त कर इसरो से ऊंची उड़ान भर कर नया कीर्तिमान स्थापित कर विश्व में गुरुत्व का खिताब जीतने की दिशा में नया कदम उठाया है। लेकिन बुरा हो नेहरू के प्रेत का और कम्युनिस्टों के भूत का जिसने विश्व गुरू की खिताब को हासिल करने में बाधा डाली और प्रयोग का पंजीयन होने के पहले ही भाई- बहन की शादी का खुलासा करवा दिया है। इसलिए और खिसयानी बिल्ली अब बगैर विवाह विच्छेद के सारा सामान वापस ले लिया है और भाई को संघी प्रचारक बना कर चाय बेचने की ट्रेनिंग लेने के विश्व गुरू पैदा करने वाली ब्रह्म भूमि गुजरात के उस स्टेशन पर भेज दिया है उस स्टेशन का निर्माण होना प्रस्तावित ही नहीं है लेकिन चाय पीने के लिए लालायित यात्री चेन पुलिंग कर चाय का मजा ले रहे हैं। कई कंपनियां जिनका मुनाफा दस रुपए है उन्होंने बैंक एडवांस लेकर थोक में चाय खरीद ली है क्योंकि उन्हें वेटिंग प्रधानमंत्री को इग्नोर कर भावी प्रधानमंत्री की छवि नजर आ रही है। बुरा हो उनका जो पैंतीस हजार रुपए का अनुदान रुकवा रहे हैं। जय हो! हम विश्व गुरू है। रणधीर सिंह सुमन

RELATED ARTICLES

Most Popular