Homeपुलिसअवैध संबंध व झाड़फूंक महंत की हत्या का बना कारण, मां बेटे...

अवैध संबंध व झाड़फूंक महंत की हत्या का बना कारण, मां बेटे ने की हत्या, पुलिस ने किया खुलासा,

मिश्रित कोतवाली क्षेत्र मे मिला था महंत का शव,

धारा लक्ष्य समाचार

जावेद क़ासिम

सीतापुर। पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र ने कोतवाली मिश्रित इलाके मे महंत का शव झाड़ियों मे पड़ा मिलने पर घटना के खुलासे को लेकर कई टीमों का गठन करते हुए सख्त निर्देश दिए थे। इसी क्रम मे एएसपी दक्षिणी डॉ प्रवीन रंजन सिंह के निकट पर्यवेक्षण व सीओं मिश्रित राजेश यादव के नेतृत्व में आज थाना मिश्रित व स्वॉट संयुक्त पुलिस टीम ने पंचकोसी परिक्रमा करने आए महंत मनीराम दास हत्या घटना का सफल अनावरण करते हुए। घटना में शामिल गंगादेई उर्फ छोटी बिटिया पत्नी स्व छंगालाल सोनू पुत्र स्व छंगालाल निवासीगण ग्राम भूड़पुरवा थाना मिश्रित जनपद सीतापुर को मिश्रित,सिधौली मार्ग पर भुड़पुरवा मोड़ से गिरफ्तार कर लिया। जिनकी निशानदेही पर घटना में प्रयोग होने वाले धारदार हथियार बांका व हसिया भी बरामद किया गया। मृतक महंत मनीराम दास जो पंचकोसीय परिक्रमा करने मिश्रित आए थे। वापस घर नहीं पहुचने पर मृतक के भतीजें टाई पुत्र आत्माराम निवासी ग्राम गिरधरपुर थाना बेनीगंज जनपद हरदोई ने तहरीर थाने पर दी। जिस पर गुमशुदगी पंजीकृत की गई थी। बीतें शुक्रवार की शाम को सिधौली,मिश्रित रोड पर ग्राम रूपपुर केसरीपुर गांव जाने वाले मार्ग पर स्थित झाड़ियों में एक बोरे में बंद महंत मनीराम दास का क्षत-विक्षत शव मिलने पर गुमशुदगी की धारा मे हत्या की धारा तरमीम कर पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी। जांच मे पता चला कि अभियुक्ता गंगादेई व मृतक मंहत उपरोक्त के मध्य काफी समय से अवैध संबंध थे।मृतक मंहत उपरोक्त झाड़ फूंक एवं तांत्रिक का भी काम करता था। करीब 1वर्ष पूर्व गंगा देवी की पुत्री विनीता सोनू के साले सचिन के साथ चली गई थी। एवं वर्तमान समय में वही रह रही है। इसके अतिरिक्त गंगादेवी के पुत्र सोनू की पत्नी लक्ष्मी भी घर से चली गई थी। इन सब बातों से गंगादेवी व उनका परिवार समाज में अपमानित महसूस करते थे तथा गंगादेवी की पुत्री विनीता व बहू लक्ष्मी का घर से चले जाने का कारण भी मृतक मंहत मनीराम द्वारा की गई तंत्र विद्या को मानते थे। साथ ही मनीराम द्वारा गंगादेवी के साथ बार-बार अवैध संबंध बनाने को लेकर गंगादेवी व उसके पुत्रों द्वारा भी विरोध किया जाता था। मां बेटे द्वारा रंजिशन महंत की हत्या किए जाने के तथ्य प्रकाश में आए हैं। अभियुक्तों की निशादेही पर आलाकत्ल बांका व हसिया बरामद कर उन्हें जेल भेज दिया गया।

RELATED ARTICLES

Most Popular