Homeपुलिसशान्तिपूर्ण निर्वाचन सम्पन्न कराने के लिए जिम्मेदारियां समझ लें अधिकारी : डीएम

शान्तिपूर्ण निर्वाचन सम्पन्न कराने के लिए जिम्मेदारियां समझ लें अधिकारी : डीएम

कंट्रोल रूम से निर्वाचन की समस्त गतिविधियों पर रहेगी नजर

ललितपुर। लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 के दृष्टिगत जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी अक्षय त्रिपाठी की अध्यक्षता में कलैक्ट्रेट सभागार में समस्त नोडल अधिकारियों को सौंपे गये दायित्वों व उनके द्वारा अब तक की गयी कार्यवाही की समीक्षा हेतु बैठक आयोजित की गई।
जिलाधिकारी ने निर्देश देते हुए कहा कि सभी नोडल अधिकारी अपनी जिम्मेदारियों को भलीभांति समझ लें, जनपद में शान्तिपूर्ण मतदान कराने के लिए समस्त तैयारियां पूर्ण कर लें, कहीं भी लापरवाही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि कोई शंका हो तो अभी उसका समाधान कर लें, मतदान के दौरान भ्रम की स्थिति नहीं होनी चाहिए। क्रिटिकल एवं वल्नरेबल बूथों पर पर्याप्त पुलिस बल तैनात रहेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि जिला स्तर पर एक कंट्रोल रूम स्थापित करें जिसमें निर्वाचन सम्बंधी सभी गतिविधियों पर नजर रखी जाए एवं सूचनाओं का आदान प्रदान होता रहे। उन्होंने कहा कि ईवीएम वाले वाहनों में जीपीएस अनिवार्य रूप से लगा होना चाहिए। इसके साथ ही वोटर टर्नआउट एप के बारे में प्रशिक्षण के दौरान सभी कर्मियों को जानकारी देते हुए गूगल प्ले स्टोर से एप इंस्टॉल कराएं एवं इलेक्शन ड्यूटी वितरण के दौरान ड्यूटी लेटर पर भी दिशा निर्देश प्रदर्शित करें।
बैठक में बताया गया कि जनपद के 749 मतदान केन्द्रों के 1056 मतदेय स्थलों पर 5वे चरण में 20 मई 2024 को मतदान होना है, जिसके लिए विधानसभा ललितपुर 538 एवं महरौनी के लिए 518 (कुल 1056) पोलिंग पार्टियां बनायी गई हैं, जो दिनांक 19 मई को अमरपुर मण्डी से रवाना होंगी। मतदान प्रक्रिया को शान्तिपूर्ण व निष्पक्ष सम्पन्न कराने के लिए 2 एआरओ, 15 जोनल व 107 सेक्टर मजिस्ट्रेट नियुक्त किये गए हैं। इसके अलावा 8 एफएसटी व 6 एसएसटी टीमें भी बनायी गई हैं। बताया गया कि जनपद में कुल 15 लाख 64 हजार 711 जनसंख्या के सापेक्ष 9 लाख 50 हजार 593 मतदाता हैं जो 20 मई को अपने मताधिकार का प्रयोग करें।
चुनाव प्रक्रिया के दौरान संबंधित आरओ वेब कास्टिंग के लिए बूथों पर इंटरनेट, मेज़ कुर्सी आदि उपलब्ध कराएंगे, वेब कास्टिंग में तकनीकी सहायकों को लगाया जायेगा। सिक्योरिटी प्लान, एमसीसी के लिए 3 परमिशन जारी हो गई हैं, अभी तक कोई पित नहीं है। एमसीएमसी के माध्यम से प्रचार वाहनों में चलने वाले कंटेंट की जांच के उपरान्त ही परमिशन जारी की जा रही है। ईवीएम का प्रथम रेण्डमाइजेशन 19 अप्रैल को होगा, निर्धारित मानक के अनुसार जो मतदाता मतदेय स्थल पर नहीं पहुंच सकते उन्हें पोस्टल बैलेट की सुविधा प्रदान की जाएगी।
बैठक में सीडीओ कमलाकांत पांडेय, एडीएम वि./रा.अंकुर श्रीवास्तव, एडीएम नमामि गंगे राजेश कुमार श्रीवास्तव, पीडी एके सिंह, डीडीओ केएन पांडेय, एसडीएम सदर चंद्रभूषण प्रताप, एएसडीएम महरौनी राजबहादुर, बंदोबस्त अधिकारी चकबंदी राजेश कुमार, वरिष्ठ कोषाधिकारी मनोज सिंह, डीडीएजी वीके दुबे, डीपीआरओ नवीन मिश्रा, डीआईओ एनआईसी अर्पित जैन, एडीआई सुरजीत सिंह, कर निर्धारण अधिकारी नगर पालिका सहित राजेन्द्र प्रसाद, सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

Most Popular