Homeपुलिसक्रॉप कटिंग के दौरान डीएम अरविंद सिंह ने स्वयं गेहूं की फसल...

क्रॉप कटिंग के दौरान डीएम अरविंद सिंह ने स्वयं गेहूं की फसल काटकर जानी पैदावार

धारा लक्ष्य समाचार

विनय कुमार
बलरामपुर ब्यूरो चीफ

रबी सीजन की मुख्य फसल गेहूं की उत्पादकता एवं उत्पादन के आंकड़े इकट्ठा किए जाने के लिए डीएम अरविंद सिंह द्वारा तहसील बलरामपुर के ग्राम महादेव मिश्र में कृषक इसराइल पुत्र रमजान के खेत गाटा संख्या 699 में क्रॉप कटिंग का स्थलीय निरीक्षण किया गया।

इस दौरान डीएम ने स्वयं दराती से खेत में फसल काटकर उपज का आकलन किया । उन्होंने भू अभिलेख की जांच करते हुए किसान को खेती से संबंधित नई तकनीकी के बारे में जानकारी भी दी।
क्रॉप कटिंग के दौरान 10×10 मीटर के त्रिकोण में फसल काटकर वजन कांटे पर माप किया गया, जिसमें गेहूं की फसल का उत्पादन 31.813 कुंतल प्रति हेक्टेयर पाया गया।
जनपद में किसानों के हित में फसल उत्पादन को बढ़ाने को डीएम अरविंद सिंह द्वारा संस्तुतितो सहित शासन को पत्र लिखा जायेगा। जिससे कम लागत पर फसल उत्पादन बढ़ने से कृषकों की आमदनी बढ़ेगी।

इस दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि क्रॉप कटिंग में रैंडम आधार पर खेतों को चुना जाता है जिनकी उत्पादकता का आकलन त्रिकोणीय आकृति में खेत को काटकर उससे कितनी उत्पादकता हुई है वह देखी जाती है इससे दो लाभ होते हैं प्रथम जनपद का जो औसत निकलता है उससे यहां की उत्पादकता का पता चलता है और उसके आंकड़े शासन को भी प्रेषित किए जाते हैं, द्वितीय उत्पादकता अगर कम होती है तो उन किसानों को जिन्होंने फसल बीमा योजना के अंतर्गत बीमा करा रखा है अगर जनपद में उत्पादकता मानकों से कम रहती है तब उन किसानों को फसल बीमा योजना के अंतर्गत लाभ दिया जाता है । उन्होंने कहा कि फसल बीमा योजना से आच्छादित सभी किसानों को आंधी,तूफान,अतिवृष्टि,कम उत्पादन आदि पर प्रत्येक दशा में क्षतिपूर्ति प्रदान किया जायेगा,इसके लिए सभी बीमा कंपनियों को बैठक कर सचेत कर दिया गया है की आंधी,तूफान,अतिवृष्टि,कम उत्पादन आदि से होने वाले क्षति का सर्वे करते हुए समय पर मुआवजा प्रदान किया जाए। बीमा कंपनियों द्वारा येनकेन – प्रकारेंण सहयोग न किए जाने पर जिम्मेदारी तय करते हुए कड़ी कारवाही की जायेगी।
इस अवसर पर तहसीलदार बलरामपुर, अपर सांख्यिकी अधिकारी व अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

Most Popular