Homeप्रदेशजिलाधिकारी हमीरपुर की डा० ए०पी० जे० अब्दुल कलाम सभागार कक्ष में बैठक...

जिलाधिकारी हमीरपुर की डा० ए०पी० जे० अब्दुल कलाम सभागार कक्ष में बैठक संपन्न

हमीरपुर की भौगोलिक स्थिति के अनुसार प्रतिवर्ष माह अप्रैल से माह जून तक प्रायः 40 डि०से0 से अधिक तापमान हो जाने के कारण लू की स्थिति बनी रहती है । संभावित सूखे एवं लू के दृष्टिगत विभागवार बैठक में उपस्थित अधिकारियों को जिलाधिकारी द्वारा निम्न निर्देश दियें गयें ।
जिलाधिकारी महोदय ने मुख्य चिकित्साधिकारी, हमीरपुर को निर्देशित किया गया कि चिकित्सालय में ओआरएस काउंटर स्थापित किए जाएं एवं लू से प्रभावित व्यक्तियों हेतु अतिरिक्त बेड आरक्षित किए जाएं । लोकसभा निर्वाचन के दृष्टिगत लू प्रकोप से बचाव हेतु मतदान केन्द्रों पर ओण्आरण्एस एवं सभाओं में मेडिकल टीम की उपलब्धता सुनिश्चित किया जायेगा, समस्त स्वस्थ्य केन्द्रों पर लू प्रकोप से ग्रसित रोगियों के इलाज की समस्त आवश्यक व्यवस्था पर्याप्त मात्रा में रखी जाये । लू के प्रवाह से बचाव हेतु ष्क्या करें.क्या न करेंष् के सम्बन्ध में समस्त ए०एन०एम०, आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्तियों को प्रशिक्षित किया जाये तथा उन्हें ओण्आरण्एस उपलब्ध करा दिया जाये एवं वह अपने कार्य क्षेत्रों में आमजन मानस को जागरूक करें । वर्तमान समय में सार्ट सर्किट से अग्निकांड के दृष्टिगत अधिशाषी अभियंता विद्युत को निर्देशित किया गया की फसलों को अग्निकाण्ड से बचाव हेतु बिजली आपूर्ति के समय में परिवर्तन किया जाये। सार्ट सर्किट से फसलों में अग्निकांड की घटनायें होने पर जिलाधिकारी ने कढ़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि अधिशाषी अभियंता विद्युत एवं सम्बन्धित अधिकारी के खिलाफ कठोर कार्यवाही किया जायेगा तथा क्षतिपूर्ति की भरपाई की जाएगी । ग्राम पंचायत एवं नगर क्षेत्र के समस्त मरम्मत एवं बंद बड़े हैण्ड पम्पों का मरम्मत कार्य पूर्ण कर क्रियाशील किया जाये, तथा जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यलय में स्थापित पेयजल कंट्रोल रूम नम्बर 05282.298176 पर प्राप्त होने वाली पेयजल से सम्बन्धित शिकायतों का अविलम्ब निस्तारण कराया जाये । ग्रामीण क्षेत्रों में राजकीय नलकूपों तथा निजी नलकूपों के माध्यम से तालाब एवं पोखर भरवाये जाने का कार्य एवं खराब हैण्डपम्पों की पूर्व से रिबोर एवं मरम्मत का कार्य तथा जिन ग्रामों में सूखे की स्थिति में वाटर लेविल अत्यन्त कम हो जाने के कारण पेयजल की समस्या उत्पन्न हो जाती है, उन ग्रामों में टैंकरों से पेयजल उपलब्ध कराने हेतु रूटचार्ट तैयार करने तथा खराब टैंकरों की मरम्मत का कार्य पूर्ण किये जाने के सम्बन्ध में । जनपद में कुल छिद्रित नलकूपों के सापेक्ष यांत्रिक दोषध्विद्युत दोष से बन्द पड़े नलकूपों की तत्काल मरम्मत कराकर उन्हें क्रियाशील किया जाये, तथा नलकूपों एवं नहरों के माध्यम से समस्त तालाबों में पानी भरवाया जाये, इसके साथ ही गैशालाओं में पशुओं को पेयजल हेतु चरही/पेयजल एवं छायें की पर्याप्त व्यवस्था कराया जाना सुनिश्चित किया जाये । कृषि अधिकारी एवं उप कृषि निदेशक को निर्देशित किया कि सूखे की स्थिति में फसल चक में फसलों का बदलाव, उन्नतशील बीजों का वितरण उन्नतशील बीजों का वितरण, हरी खाद, कम्पोस्ट खाद तथा जैविक खाद की व्यवस्था, कृषि तकनीकी फसल प्रदर्शनों का आयोजन, उन्नतशील कृषि यंत्रों की व्यवस्था आदि हेतु कृषकों को जागरूक किया जाये । जिलाधिकारी ने निर्देशित किया की लू से बचाव हेतु समस्त सम्बन्धित विभाग अपने स्तर से समस्त कार्यवाही पूर्ण करा लें किसी भी विभाग द्वारा लापरवाही की स्थिति में सम्बन्धित के खिलाफ कार्यवाही किया जायेगा ।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व विजय शंकर तिवारी,अपर जिलाधिकारी न्यायिक डॉ0 नागेन्द्र नाथ यादव, अपर पुलिस अधीक्षक मायाराम वर्मा, डिप्टी कलेक्टर अभिमन्यु कुमार,उपजिलाधिकारी हमीरपुर,मौदहा,सरीला, जिला विकास अधिकारी अजीत श्रीवास्तव, परियोजना निदेशक साधना दीक्षित,अधिशाषी अभियन्ता विद्युत अनिल अहूजा,ए0आर0टी0ओ0 अमिताभ राय, अधिकशाषी अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायत तथा अन्य विभागो के संबंधित अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहें।

RELATED ARTICLES

Most Popular