Homeबड़ी खबरेमां भद्रकाली मंदिर में सर्वजातीय कन्या विवाह का आयोजन

मां भद्रकाली मंदिर में सर्वजातीय कन्या विवाह का आयोजन

झांसी

मऊरानीपुर । ग्राम पंचायत भदरवारा में स्थित भद्रकाली मंदिर परिसर में सर्व जातीय कन्या विवाह सम्मेलन का आयोजन मां भद्रकाली सेवा समिति द्वारा द्वितीय बार आयोजित कराया गया। जिसमें वर एवं कन्या पक्ष को सामुहिक कन्या शादी समारोह के दौरान अनेक प्रकार के उपहार भेंट किए गए। साथ ही चैत्र नवरात्रि की नवमीं तिथि के चलते विशाल रूप में मावली माता मंदिर समिति द्वारा भोज भंडारे का विशाल आयोजन किया गया। जिसमें सैंकड़ों भक्तों ने भोग प्रसादी ग्रहण की। श्री भद्रकाली माता मंदिर के पुजारी विजय तिवारी एवं अजय तिवारी ने संयुक्त रूप से बताया की चैत्र नवरात्रि के अवसर पर पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी बुधवार को श्रीराम जी के जन्मोत्सव के दौरान सर्व जातीय गरीब कन्या विवाह सम्मेलन ग्राम के अलावा क्षेत्रवासियों के विशेष सहयोग से एक दर्जन गरीब कन्याओं का विवाह स कुशल संपन्न कराया गया। वही कमेटी द्वारा बताया की भदरवारा गांव में पिछले नब्बे वर्षों से आदि शक्ति मां भद्राकाली मंदिर में दसवीं तिथि से लेकर पूर्णमासी तक रात्रि में रामलीला का मनमोहक मंचन किया जाता है साथ में दिन में विशाल रूप में ताड़का के वध का आयोजन कराया जाता है। जिसमें गुरुवार 18 अप्रैल से भागीरथी आदर्श रामलीला मंडल टोडीफतेपुर द्वारा रामलीला का मंचन मर्यादा पुरुषोत्तम रामचंदजी के प्रक्कटोतसव का मनमोहक मंचन के साथ शुभारंभ किया गया। वही 23 अप्रैल को दोपहर से विशाल रूप में हाथी, घोड़ों द्वारा ताड़का का वध किया जाएगा। आयोजक कमेटी द्वारा बताया गया है कि सभी कार्यक्रम लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के आदेश को देखते हुए एवं चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों का विशेष ध्यान रखते हुए सम्पन्न जाएंगे जायेंगे।
हाई वोल्टेज लाइन की चिंगारी से खेत में खड़ी गेहूं की फसल में लगी आग

मऊरानीपुर । गत दिवस ग्यारह हजार हाई वोल्टेज की लाइन से निकले फॉल्ट की वजह से निकली चिंगारी से एक किसान के खेत में पकी खड़ी गेहूं की फसल में अचानक आग लग जाने से पीड़ित किसान ने मंडी समिति मऊरानीपुर से जली गेहूं की फसल का मौका मुआयना कर क्षतिपूर्ति दिलाए जाने की मांग की। मऊरानीपुर तहसील क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले राजस्व ग्राम पठा निवासी किसान सोनू सिंह बुंदेला पुत्र राजकुमार सिंह ने बताया की गत बुधवार को खेतों के बीचों बीच से निकली ग्यारह हजार हाई वोल्टेज की लाइन में अचानक फॉल्ट होने से निकली आग के रूप में चिंगारी के कारण खेत में पकी खड़ी 7 बीघा की गेहूं की फसल में अचानक आग लग गई जिससे पूरे खेत की फसल जल गई है। पीड़ित किसान ने मंडी समिति मऊरानीपुर से विद्युत की चिंगारी से जली गेहूं की फसल का मौका मुआयना कराकर क्षतिपूर्ति दिए जाने की मांग की है। बताते चलें की पिछले महीने दो मार्च को ओलावृष्टि अतिवृष्टि के कारण रवि की फसलें नष्ट हो गई थी लेकिन उसमे से कुछ आधी अधूरी शेष बची गेहूं की फसल को किसान ने रखवाली करके बामुश्किल बचा कर रखा था लेकिन उस पर भी बिजली के फाल्ट से निकली चिंगारी के चलते वह भी स्वाहा हो गई जिससे बचा खुचा निवाला भी किसान से छीन गया है।

मऊरानीपुर । चैत्र नवरात्रि की प्रतिपदा से लेकर नवमी तिथि तक क्षेत्र के गांवों में घट खप्परों में बोए गए ज्वारों की देवी भक्तों ने नौ दिनों तक श्रद्धा, भक्ति, भाव के साथ विशेष पूजा, अर्चना, देवी भजनों आदि के अलावा धार्मिक अनुष्ठान ग्रामीणों किए गए। जिसमें बुधवार नवमी तिथि के पावन पर्व पर ग्राम खिलारा, भण्डरा, बसरिया, धायपुरा, नयागांव, देवरीघाट, पुरवा, घाटकोटरा, कदौरा, भानपुरा, खकौरा, विरगुआं, कुवारपुरा, पठा, ढ़करवारा, हरपुरा, पंचमपुरा, परसारा,भदरवारा, अटारन, भिटारन, उसरन, बुखारा, सितौरा, खरकमाफ, बड़ागांव, रौनी, चुरारा, मथुपुरा, टकटौली, मैलवारा, बीरा, धोर्रा, बख्तर, कैलुआ, हीरापुर, सिंगरवारा, पिपरोखर, चकारा, रोरा, भटपुरा, घाटलहचूरा, बरौरा, पचबई आदि ग्रामों में बुधवार को ज्वारों की शोभायात्राएं गाजे बाजे देवी भजनों के साथ निकाली गई। जिसमें महिलाएं एवं कन्याएं सिर पर ज्वारों के घटकप्पर रखकर एवं देवी भक्त थालियों में दिवाले सजाकर देवी मंदिरों पर ले जाकर देवताओं को अर्पित किए।

धनुषधारी मंदिर में दो दिवसीय श्री राम जन्मोत्सव का आयोजन
मऊरानीपुर । ग्राम पंचायत खिलारा में स्थित धनुषधारी मंदिर प्रांगण में दो दिवसीय श्रीराम जन्मोत्सव का धार्मिक आयोजन ग्रामीणों एवं वैष्णव संप्रदाय के समूह द्वारा मनाया गया। जिसमें श्रद्धा, भक्ति, भाव के साथ रामनवमीं का पावन पर्व के उपलक्ष्य में ग्रामीणों ने जन्मोत्सव मनाते हुए श्रीरामचरित मानस का पाठ, भजन, कीर्तन, आरती सहित अनेक धार्मिक अनुष्ठान मंदिर के प्रधान पुजारी विशंभरदास महाराज अयोध्या धाम के सानिध्य में आयोजित किये गये। जिसमें उन्होंने विशेष साज सज्जा के साथ देव प्रतिमाओं की सुंदर, अलौकिक व दिव्य झांकियां सजाई गई। इस दौरान महिलाओं द्वारा श्रीराम जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में सोहर गीत गाए गए वहीं भक्तों द्वारा विभिन्न प्रकार की भोग प्रसादी अराध्य को अर्पित की गई।

RELATED ARTICLES

Most Popular