Homeबड़ी खबरेखस्ताहाल सड़क से परेशान श्रद्धालुओं को सड़क की दरकार

खस्ताहाल सड़क से परेशान श्रद्धालुओं को सड़क की दरकार

  • पीडब्ल्यू डी विभाग की उदासीनता से परेशानी उठा रहे श्रद्धालु
  • डामरीकरण न होने से हो रही परेशानी
  • सड़क अपनी दुर्दशा पर बहा रही आंसू जिम्मेदार खामोश

माधौगढ़ (जालौन) तहसील क्षेत्र के ग्राम ऊंचा में ऊंचा मसान बाबा मार्ग पर दो किलोमीटर सड़क खस्ता हाल है। समस्या की सुनवाई न होने के चलते लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा है। जबकि यह मंदिर ऊंचा का ऐतिहासिक स्थान है और यहां पर करीब 800 साल पुराना मसान बाबा मंदिर है। जहां पर प्रतिमाह हजारों श्रद्धालु शीश नवाने आते हैं। लेकिन रास्ता खराब होने के कारण परेशानी हो रही है। मंदिर परिसर में दर्शन करने आये श्रद्धालुओं ने बताया कि इस सड़क का निर्माण 2001 में किया गया था, पर अब यह सड़क अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रही है। सरकार की ओर से कभी इसकी मरम्मत करवाने की तरफ ध्यान ही नहीं दिया गया। यहां श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ता है श्रद्धालु रामायण पाठ व श्रीमद भागवत कथा आदि करवाते है लेकिन सड़क की दुर्दशा होने के कारण लोगों को परेशानी हो रही है।

गांव उजड़ने के बाद से कोई सुविधा नही

ऊंचा के ग्रामीण बताते हैं कि अन्य गांव की तरह ऊंचा भी फला- फूला गांव हुआ करता था लेकिन बागियों की दहशत का शिकार हुआ ऊंचा फिर कभी बस ही ना पाया उजड़े हुए गांव में महज एक मसान बाबा का स्थान ही शेष बचा रह गया करीब 800 से अधिक सालों के दरमियान पीढ़ी दर पीढ़ी इस ऐतिहासिक मसान बाबा के स्थान पर दिलों में आस्था समेटे श्रद्धालु दर्शन करने आते है लेकिन खस्ताहाल रास्ते से गुजरकर लोगों को परेशानियां उठानी पढ़ती है इस उजड़े हुए गांव में बिजली पानी व पक्का रास्ता सब सुविधाएं हुआ करती थी लेकिन गांव उजड़ जाने के बाद से ही शासन प्रशासन ने इस जंगल में तब्दील हुए गांव की तरफ निहारना ही बंद कर दिया आलम यह है कि ना बिजली है न पानी जबकि निकलने के लिए रास्ता भी छिन गया सालों से श्रद्धालु इस उखड़े हुए रास्ते से गुजरकर बाबा के दर्शन कर पाते है लेकिन पीडब्लू डी द्वारा बनाया गया रास्ता खड्डो में तब्दील हो गया लेकिन उसे ठीक करवाने की जहमत अब तक नही उठाई गयी जिस कारण गिरते पढ़ते श्रद्धालु बाबा तक पहुंच पाते है।

RELATED ARTICLES

Most Popular