Homeराजनितिफुंदनपुर गांव पहुंची स्मृति, सामाजिक कार्यकर्ता सम्मेलन में हुई शामिल

फुंदनपुर गांव पहुंची स्मृति, सामाजिक कार्यकर्ता सम्मेलन में हुई शामिल

20 मई को भाजपा के लिए मतदान करने की अपील की

रिपोर्ट:संजय शुक्ला

अमेठी में कांग्रेस की गुंडई नहीं चलने दूंगी – स्मृति ईरानी

शुकुल बाजार अमेठी।इन दिनों अमेठी सांसद जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में पहुंचकर सामाजिक कार्यकर्ता सम्मेलन में शामिल होकर जनसभा को सम्बोधित कर भाजपा के पक्ष में लोगो से मतदान करने की अपील कर रही है।जहां कई विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं को भी भाजपा का फटका पहनाकर भाजपा में शामिल कर रही है।इसी कड़ी में आज बुधवार को क्षेत्र के फुदनपुर गांव में आयोजित सामाजिक कार्यकर्ता सम्मेलन में भाजपा सांसद अमेठी स्मृति ईरानी पहुंची जहां उन्होंने विशाल जनसभा को संबोधित किया।वही ग्राम प्रधान प्रतिनिधि व बूथ अध्यक्ष कट्टर पासी व हेमंत सिंह (जय दुर्गा भारत एजेंसी) ने भाजपा पदाधिकारियों व समर्थको के साथ सांसद स्मृति ईरानी को स्मृति चिन्ह व पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया।सांसद स्मृति ईरानी फुंदनपुर गांव में सामाजिक कार्यक्रम के माध्यम से जनता से रूबरू हुई तथा केंद्र और राज्य की भाजपा की डबल इंजन की सरकार द्वारा चलाई जा रही एवं अपने द्वारा किए गए विकास कार्यों पर विस्तृत प्रकाश डाला।अमेठी सांसद स्मृति इरानी ने राहुल गांधी पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि किसानों की जमीन हड़पना राहुल गांधी का मकसद है,अमेठी छोड़कर वायानाड जाने वाले राहुल गांधी वायनाड को अपना परिवार बताते हैं उन्होंने कहा मैंने लोगों को रंग बदलते हुए देखा है लेकिन परिवार बदलते हुए राहुल गांधी को देख रही हूं।उन्होंने कहा कांग्रेस के नेता अभद्रता पर उतारू है लेकिन अमेठी में कांग्रेस की गुंडई नहीं चलने दूंगी।उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने अमेठी में 499 फैक्ट्रियां बंद करवा दी जबकि मेरे द्वारा अमेठी में कई सौ करोड रुपए की लागत से कई फैक्ट्रियों लगवाई गई जिनमें हजारों लोगों को रोजगार मिल रहा है और विकास की गति निरंतर बनी रहे इसके लिए आने वाले 20 मई को कमल का बटन दबाकर दिल्ली में बनने वाली भाजपा सरकार में एक कमल अमेठी का भी शामिल करें, उन्होंने कहा कि अमेठी से मेरा गहरा लगाव है,अमेठी मेरा घर है मैं अमेठी की स्थाई निवासी हूं मैं अमेठी की मतदाता हूं और अब अमेठी से मेरी अर्थी ही जाएगी मैं अमेठी कभी नहीं छोड़ूगी, उन्होंने कहा मैं राहुल गांधी की तरह दोहरे चरित्र वाली नहीं हूं महिला हूं लेकिन जो कहती हूं वह करती हूं मैंने हारने के बाद भी अमेठी नहीं छोड़ा और राहुल गांधी जीतने के बाद भी वायानाड भाग गए और वायनाड से अमेठी की जनता का लगातार अपमान कर रहे है।26 तारीख को वायनाड में चुनाव समाप्त होने के बाद राहुल गांधी अमेठी आएंगे, वायनाड में टोपी लगाने वाले राहुल गांधी मन्दिर, मंदिर जाएंगे जनेऊ धारण करेंगे अपने आप को हिंदू बताएंगे जाति धर्म के नाम पर बांटने की कोशिश करेंगे। लेकिन अमेठी की जनता को मोदी सरकार पर भरोसा है, मोदी की गारंटी पर भरोसा है ऐसे में अमेठी की जनता अपने अपमान और जमीन चोरी का बदला लेगी। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की नजर अमेठी की जमीन पर है अमेठी की जनता को ठगने के इरादे से अमेठी आएंगे, उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान राहुल गांधी नहीं दिखाई दिए जब लोग जिंदगी और मौत से जूझ रहे थे तब भी मैं लोगों के साथ खड़ी थी और आज भी खड़ी हूं और हमेशा खड़ी रहूंगी। जबकि राहुल गांधी सिर्फ चुनाव के दौरान ही अमेठी आते हैं उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में जनता ही सर्वोपरि है और जनता भारतीय जनता पार्टी के साथ है उन्होंने भारत के भाग्य विधाता मतदाताओं से अपील की की आने वाली 20 मई को कमल का बटन दबाए और 5 साल मुफ्त का अनाज, तथा 5 साल किसान सम्मन निधि सहित विकास की गति को निरंतर बनाए रखें। उन्होंने कहा कि सड़क, शिक्षा और चिकित्सा सहित विभिन्न क्षेत्रों में अभूतपूर्व कार्य किए गए हैं और किए जाएंगे सामाजिक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने उपस्थित जनमानस का अभिवादन और आभार व्यक्त किया।

RELATED ARTICLES

Most Popular