HomeUncategorizedप्रधान पुत्र ने मासूम को बनाया हवस का शिकार, पुलिस मुठभेड़ में...

प्रधान पुत्र ने मासूम को बनाया हवस का शिकार, पुलिस मुठभेड़ में आरोपी हुआ घायल, जिला अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रही मासूम

धारा लक्ष्य समाचार

मिश्रिख सीतापुर। कोतवाली इलाके के एक गांव में 5 साल की मासूम को दरिंदे ने अपनी हवस का शिकार बना डाला। मासूम की हालत नाजुक बनी हुई है। उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत बहुती के मज़रा जुहरा नई बस्ती निवासी सुनीता पत्नी स्वर्गीय राजू की 5 वर्षीय पुत्री को ककरहिया निवासी मनोज उम्र 35 वर्ष पुत्र बालक राम प्रधान चीज दिलाने के बहाने साइकिल पर बिठाकर ले गया था। जब पुत्री काफी समय हो जाने पर घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने खोजबीन शुरू की तब पता चला मनोज उसे लेकर गया है। खोजबीन करने पर गांव के निकट मार्ग और नाले के बीच में बच्ची बेहोशी की हालत में पड़ी मिली। परिजनों ने सूचना पुलिस को दी पुलिस ने बच्ची को अस्पताल में भर्ती करा दिया। जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। मासूम बच्ची के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने धारा 376 पाक्सो एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत कर अभियुक्त मनोज की तलाश शुरू कर दी। एसओजी और मिश्रिख कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम ने धंधारी जंगल के निकट मुखबिर की सूचना पर मनोज को घेराबंदी कर पकड़ने का प्रयास किया तो उसने पुलिस पर गोली चला दी,जवाबी कार्रवाई मे पुलिस की गोली से मनोज घायल हो गया,जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, पकड़े गए अभियुक्त के पास से 315 बोर अवैध तमंचा और कारतूस बरामद हुए। मुठभेड़ की सूचना पाकर पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र घटना स्थल पहुंचे और निरीक्षण किया। उन्होंने पुलिस टीमों की प्रशंसा करते हुए कहा कि घटना के 24 घंटे के अंदर पुलिस ने अभियुक्त को पकड़ने मे सफलता प्राप्त की है। ऐसे जघन्य कृत्य करने वालों पर इसी तरह कड़ी कार्रवाई की जाती रहेंगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular